3 साल की बच्ची के साथ दोहराया निर्भया कांड

भारत एक ऐसा देश है। जो अपनी संस्कृति को लेकर हर देश में मशहूर है। दुनिया के हर देश में भारत की संस्कृति के बारे में तारीफें की जाती है। लेकिन बदलते युग के साथ साथ भारत के अंदर इस कदर पाप बढ़ चुका है कि संस्कार तो दूर लोगों में इंसानियत नाम की चीज भी नहीं रही है। अब हर जगह सिर्फ पाप और घिनौने अपराध दिखाई देते हैं। लोगों में हैवानियत इस कदर बढ़ रही है कि उनको छोटे और बड़े में कोई अंतर  ही नजर नहीं आता है।उनको तो सिर्फ अपनी हवस की भूख को शांत करने का मौका मिलना चाहिए। जिसके चलते आये दिन ये हवस के भूंखे भेड़िये मासूम बच्चियों को भी अपनी हवस का शिकार बना रहे है।सरकार ने इन अपराधों को रोकने के लिए न जाने कितने कानून बनाये हैं लेकिन उन कानून और नियमों से इन घिनौने अपराधों पर कोई रोक नहीं लगी है।   

बलात्कार कर झाड़ियों में फैंका

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के मंदसौर से ऐसे ही घिनौने अपराध का मामला सामने आया है। मंगलवार को मंदसौर में  तीसरी क्लास की 7 साल की बच्ची पहले स्कूल से लापता हुई फिर बच्ची के साथ रेप कारने के बाद उसे झाड़ियों में फेंका गया। बताया गया है कि बुधवार को मासूम बच्ची स्कूल के पास की झाड़ियों में गंभीर हालत में मिली है। बच्ची पर धारदार हथियार से लगभग पांच बार वार किया गया जिससे उसकी हालत बेहद गंभीर थी। आनन् फानन में बच्ची को गंभीर हालत में ही इंदौर लाया गया है। जहाँ एमवाय अस्पताल में बच्ची का ऑपरेशन हुआ। वहीं बताया गया है कि अब भी बच्ची की हालत बहुत नाजुक बनी हुई है। बच्ची के साथ इतनी बेरहमी से बलात्कार हुआ है कि जब डॉक्टर और पुलिस ने उसे देखा तो उनकी भी आंखें फटी रह गई और उनकी रूह कांप उठी। वहीँ पुलिस ने किडनैपिंग व रेप का केश दर्ज कर लिया है साथ ही पुलिस स्कूल के आसपास लगे सभी सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को चैक किया गया है। एक कैमरे की फुटेज में बच्ची एक युवक के पीछे जाती नजर आरही है। इतना ही नहीं इस मामले में पुलिस ने 20 साल के इमरान को गिरफ्तार कर लिया है।

बच्ची के शरीर पर अनगिनत निशान

खबरों के मुताबिक आपको बता दें कि दरिंदे के दांत के निशान बच्ची के शरीर पर जगह-जगह दिखाई दे रहे हैं। और वो निशान साफ़ साफ बयां कर रहे हैं कि किस तरह दरिंदे ने मासूम बच्ची नोचा होगा। बच्ची की नाक पर लगे जख्म इतने गहरे हैं। कि डॉक्टरों को नाक पर नेसोगेस्ट्रिक ट्यूब लगानी पड़ी है। इतना ही नहीं बच्ची का प्राइवेट पार्ट लहूलुहान है। बच्ची की हालत इतनी नाजुक थी कि डॉक्टरों को रात में ही उसका ऑपरेशन करना पड़ा। ओपरेशन के जरिये बच्ची की आंतों को काटकर बाहर एक रास्ता बनाकर प्राइवेट पार्ट्स को ऑपरेट किया गया। .

गुरुवार को रहा पूरा मंदसौर बंद

सात साल की बच्ची के साथ हुए रेप के बाद पूरे मंदसौर में हाहाकार मची हुई है। मंदसौर का हर इंसान इंसाफ की मांग के लिए दुहाई दे रहा है ,इतना ही नहीं  बच्ची से रेप के विरोध में गुरुवार को पूरा मंदसौर बंद रहा। लोगों ने अपनी दुकानें तक नहीं खोलीं। मंदसौर में हो रहे भारी आक्रोश के कारण पुलिस आरोपी इरफान खान को कोर्ट में भी पेश नहीं कर सकी। आक्रोश को देखते हुए कोर्ट खुद कंट्रोल रूम पहुंचना पड़ा। वहां सुनवाई के बाद फैसला हुआ कि आरोपी इरफ़ान को 2 जुलाई तक पुलिस रिमांड पर रखेगी। वहीं पुलिस ने बताया है कि हमने इन्क्वेरी के लिए 15 अफसरों की टीम बनाई गई है। वही पुलिस ने आरोपी इरफ़ान को फांसी की सजा दिलाने की बात कही.

बच्ची के लिए अस्पताल में कड़ी सुरक्षा

आपको बता दें कि कहीं कोई हादसा फिर से न हो जाये इसलिए बच्ची के पास पहले से ही दो पुलिसकर्मी तैनात कर दिए गए हैं। इतना ही नहीं बच्ची के  परिवार वालों को भी किसी से मिलने नहीं दिया जा रहा है। भगवान पर भरोसा कर माता-पिता बच्ची के ठीक होने का इंतजार कर रहे हैं। माँ की आंखों से  आंसू नहीं रुक रहे हैं। मां की जुवान पर एक ही सवाल है की मेरी बच्ची ने किसी का क्या बिगाड़ा था। माँ अपनी बच्ची को इस उम्मीद में देख रही थी कि वह उठे और उस से बात करे। वहीं मासूम के पिता ने बताया कि मेरी बच्ची की हालत इतनी गंभीर है कि वह उठती है और फिर सो जाती है। इन दो दिनों में वह सिर्फ एक बार बोली। साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि जब मैं स्कूल पहुंचा था तबमेरी बेटी मुझे वहां नहीं मिली।उसके बाद मैंने थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज कराई। मेरा बस इतना ही कहना है कि जिस दरिंदे ने मेरी बच्ची के साथ इतना घिनोना काम किया है। उसे चौराहे पर लेकर फांसी के फंदे पर लटकाया जाय तभी हमारी मन को थोड़ी शांति मिलेगी। .

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *