जम्मू-कश्मीर में पीएम मोदी का ऑपरेशन चक्रव्य़ूह शुरू, NSG कमांडो तैनात

नई दिल्ली : महबूबा सरकार से ब्रेकअप के बाद जम्मू कश्मीर में मोदी सरकार एक्शन में आ गई। और आतंकियों के सफाये के लिए ऑपरेशन ऑलआउट शुरू करदिया था जिसके चलते भारतीय सेना ने तीन आतंकियों को ढेर कर दिया है. वही मोदी सरकार ने आतंकी हमलों से अमरनाथ यात्रा को बचाने के लिए पहली बार एनएसजी कमांडो तैनात किए गए हैं. इस बार मोदी सरकार आतंक के खात्मे के लिए कोई भी कसर नहीं छोड़ना चाहती है इतना ही नहीं उपद्रव को शह देने वाले अलगाववादियों और पत्थरबाजों पर नकेल कसने की मोदी सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है और इस सब के साथ-साथ शांति बहाल करने के लिए सभी पक्षों से बातचीत भी करती रहेगी।

ऑपरेशन ऑलआउट

ऑपरेशन ऑलआउट के तहत भारतीय सेना ने घाटी में आतंकियों के सफाए के लिए अभियान शुरू कर दिया है. जिसके चलते आज सुबह ही अनंतनाग में आंतकवादियों के छुपे होने की सूचना मिलते ही सेना एक्शन में आ गई. और इलाके में सर्च ऑफरेशन शुरू कर दिया आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों के ऊपर फायरिंग शुरू कर दीं. जिसके जवाब में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को ढेर कर दिया।

हम आपको बता दें कि सेनाध्यक्ष ने दो दिन पहले बताया था कि जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन से सेना के ऑपरेशन पर कोई असर नहीं पड़ने वाला. सेना का ऑपरेशन जारी रहेगा।

घाटी में होगी NSG कमांडो की तैनाती

28 जून से शुरू हो रही है आमरनाथ यात्रा वहीँ अमरनाथ यात्रा जाने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा को को देकते हुए और यात्रा के दौरान होने वाले आतंकी हमलों से निपटने के लिए गृहमंत्रालय ने श्रीनगर में NSG के ब्लैक कैट कमांडों को तैनात किया है । ख़बरों के मुताबिक़ आतंकियों ने अमरनाथ यात्रा पर बड़े हमले की साज़िश रची है. जिसके चलते NSG कमांडो को तैनात किया गया है । वही सरकार ने NSG के मूवमेंट के लिए हेलीकॉप्टर भी तैयार रखा है।

अलगाववादियों पर होगी सख्ती

मोदी सरकार के इस ऑपरेशन चक्रव्य़ूह के तहत अलगाववादियों पर भी सख्ती कर दी गई है.जिसके चलते जेकेएलएफ के प्रमुख यासीन मलिक को आज हिरासत में ले लिया गया जबकि मीरवाइज उमर फारुक को नजरबंद कर दिया गया ताकि ये अलगाववादी विरोध प्रदर्शन की अगुवाई नहीं कर सकें.

आतंकियों का साथ देने वाले संगठनों पर बैन

जम्मू कश्मीर में सुरक्षा कायम करने के लिए मोदी सरकार ने आतंकवाद – गैर कानूनी गतिविधि अधिनियम के तहत आतंकी संगठनों अलकायदा के संगठनों पर प्रतिबंध लगा दिया है.

सभी पक्षों से बातचीत जारी

मोदी सरकार ने आतंकियों के साथ-साथ घाटी में पत्थरबाज़ों से निपटने के कश्मीरियों का दिल जीतने के लिए विकास के कामों में तेज़ी कर दी है.और केंद्र सरकार की तरफ से दिनेश्वर शर्मा कश्मीर के तमाम तबके के लोगों से शांति बनाये रखने के लिए बातचीत भी जारी रखेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *