भारी बारिश के कारण आई असम, त्रिपुरा-मणिपुर में भारी बाढ़, नाव से ऑफिस जाने को मजबूर अधिकारी 

नई दिल्ली: बारिश के कारण पूर्वोत्तर राज्यों में जैसे  असम, त्रिपुरा और मणिपुर में भयंकर बाढ़ आ गई है। जिससे वहां के जनजीवन पर विराम लग गया है और साथ ही हजारों लोग बेघर हो गए हैं। आपको बता दें की भारत के पूर्वात्तर में पिछले 24 घंटे में से लगातार मूसलाधार बारिश हो रही है।त्रिपुरा में 24 घंटे में 3500 परिवार बेघर  गए हैं भयंकर बारिश से आई बाढ़ के चलते मणिपुर में एक आईएएस ऑफिसर ने बहुत ही बहादुरी का काम किया है। लोगों की परेशानियों को देखते हुए यहां आईएएस ऑफिसर लोगों को बचाने के लिए बिना कुछ सोचे समझे पानी में उतर गए।

आईएएस की दरियादिली

 हाल ही में ट्विटर अकाउंट पर आईएएस दिलीप सिंह की एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। आप बी देख सकते हैं कि इस फोटो में नीले रंग की कमीज पहने हुए दिलीप सिंह आईएएस आधे पाने में डूबे हुए हैं। इतना ही नहीं जो लोग पानी में हैं उनकी मदद कर रहे हैं। वहीं बताया जा रहा है कि आईएएस दिलीप सिंह बाढ़ नियंत्रण विभाग का नेतृत्व कर रहे हैं। और इसी दौरान उन्होंने खुद को पानी में उतारा है और लोगों की मदद का हर संभव प्रयास कर रहे है।

  मणिपुर सरकार के मुख्य सचिव भी बैठे नाव में

आपको बता दें : बाढ़ से मणिपुर में हालात इतने खराब हैं कि मणिपुर सरकार के मुख्य सचिव को भी नाव से ऑफिस जाना पड़ा। जो आप साफ़ तौर पर तस्वीर में देख सकते हैं .

बारिश की वजह से  सरकारी और निजी स्कूल बंद

मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि मेघालय और असम में और बारिश होने के साथ ही नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के अलग-अलग इलाकों में और भारी बारिश होगी। वही लगातार भयंकर बारिश के कारण  इंफाल घाटी के सभी सरकारी और गैर सरकारी विद्यालयों में आज और कल के लिए अवकाश की घोषणा  शिक्षा निदेशालय द्वारा की गई है। लेकिन मौसम विभाग के मुताबिक  15 जून तक बारिश होने की आशंका है। .
 

24 घंटों में हुए लगभग 3510 परिवार बेघर

आपको बता दें कि पूर्वोत्तर में भारी बारिश के कारण त्रिपुरा में पिछले 24 घंटे में लगभग 3510 परिवार बेघर हो गए हैं।वहीँ अधिकारियों ने बताया कि  पश्चिमी त्रिपुरा में 500 से अधिक परिवारों के मकान बाढ़ में डूब गए हैं। और उन परिवारों को छह राहत शिविरों में ले जाया गया है। वहीं, अधिकारियों ने ये भी बताया कि मणिपुर में 24 घंटे से हो रही लगातार बारिश के कारण इम्फाल घाटी में बाढ़ आ गई है।  वहीं, पूर्वी इम्फाल, पश्चिमी इम्फाल, थौबल और बिष्णुपुर लगभग डूब गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *